भारतीय टीम में आने से पहले हार्दिक पांड्या की संघर्ष भरी जिंदगी?

भारतीय टीम में आने से पहले हार्दिक पांड्या की संघर्ष भरी जिंदगी?

Hardik Pandya: भारतीय टीम में ऑलराउंडर के तौर पर पहचाने जाने वाले हार्दिक पांड्या जो अभी विश्व के ऑलराउंडर में से एक ऑलराउंडर माने जाते हैं। इनका जीवन काफी संघर्ष से गुजरा है।

हार्दिक पांड्या का करियर: हार्दिक पांड्या को भारतीय टीम का ऑलराउंडर के रूप में जाना जाता है ,जो कि क्रिकेट में आने के बाद बहुत ही कम समय में विख्यात हो गए थे। हार्दिक पांड्या को मुंबई इंडियंस की टीम ने खोजा था जो उनकी एक अच्छी प्रदर्शन से प्रभावित रहे थे। हार्दिक पांड्या को विश्व में एक अच्छे ऑलराउंडर के तौर पर जाने जाते हैं ,लेकिन उनका जीवन क्रिकेट में आने से पहले काफी कठिन रहा है। बता दे कि इस सीजन आईपीएल 2024 में हार्दिक पांड्या मुंबई इंडियंस के कप्तान थे। लेकिन उनकी कप्तानी के अंदर टीम की कोई अच्छी खासी प्रदर्शन नहीं दिखी, जिससे मुंबई इंडियंस की टीम पॉइंट्स टेबल पर सबसे आखरी नंबर पर थी।

संघर्षों से भरा जीवन 

हार्दिक पांड्या का जीवन क्रिकेट में जाने से पहले संघर्षों से भरा था, उनके पिता का नाम हिमांशु पांडया है। हिमांशु पांड्या कार फाइनेंस एक छोटे व्यवसाय के मालिक थे,उन्होंने अपने दोनों बेटों के लिए उनके करियर के लिए उन्हें प्रोत्साहित किया। वे खुद एक क्रिकेट के प्रशंसक हैं। उन्होंने अपने दोनों बेटों के अंदर क्रिकेट का एक जुनून देखा और उन्हें लगा कि इन दोनों को इसमें आगे बढ़ाना उनकी जिम्मेदारी है। वह अपना काम को बंद करके बड़ोदरा चले आए और दोनों बेटों को पढ़ाई के साथ-साथ अपने करियर पर ध्यान देने के लिए उन्होंने यह फैसला लिया। हार्दिक पांड्या की परिवार आर्थिक स्थिति बहुत खराब होने के कारण फिर भी उनके पिता ने हार नहीं मानी और दोनों बच्चों को क्रिकेटर बनने के प्रति प्रोत्साहित किया।

सबसे पहले टेनिस बॉल से खेलते थे क्रिकेट

सबसे पहले हार्दिक पांड्या गांव में टेनिस बॉल से क्रिकेट खेला करते थे, और उनके पास क्रिकेट किट खरीदने के रुपए भी नहीं थे। हार्दिक पांड्या और उसके भाई दूसरे गांव जाकर टूर्नामेंट खेला करते थे, और टूर्नामेंट जीतने पर उन्हें 200 रुपिया मिलता था।

मैगी खाकर करते थे गुजारा 

परिवार की आर्थिक स्थिति खराब होने के कारण हार्दिक पांड्या और करुणाल पांड्या मैगी खाकर क्रिकेट खेलते थे। हार्दिक पांड्या ने अपने एक इंटरव्यू में यह बयान दिया था– वह लंच और डिनर के समय भी नोडल्स खाकर गुजारा करते थे,हमारे पास 5 से 10 रूपिए हुआ करते थे। हम इसी पैसे से नूडल्स खरीदते थे और खाते थे। हार्दिक पांड्या दूसरे खिलाड़ियों से बल्ला मांग कर खेलते थे।

मुंबई इंडियंस में आने के बाद बदली किस्मत 

साल 2013 में मुंबई के खिलाफ T20 मैच में अपने घरेलू मैदान में डेब्यू किया था। मुंबई इंडियंस नेम हार्दिक पांड्या की एक प्रभावशाली प्रदर्शन देखकर अपने टीम में शामिल कर लिया। उसके बाद हार्दिक पांड्या ने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा। आईपीएल में आना उनके जीवन का एक टर्निंग प्वाइंट था। साल 2015 में पहली बार हार्दिक पांड्या आईपीएल में खेले मुंबई इंडियंस की तरफ से मुंबई इंडियंस ने उन्हें एक मौका दिया जो की टीम के लिए एक अच्छा साबित है, और उन्होंने अपने टीम के लिए अच्छे प्रदर्शन किए। मुंबई इंडियंस में आने के बाद उनके परिवार की आर्थिक स्थिति बहुत ही अच्छी हो गई।

साल 2016 में भारतीय टीम में डेब्यू 

हार्दिक पांड्या ने मुंबई इंडियंस में एक अच्छा प्रदर्शन करके दिखाएं जिससे उन्हें भारतीय टीम में चुना गया। साल 2016 के T20 वर्ल्ड कप मैच में हार्दिक पांड्या ने एक आक्रामक प्रदर्शन करके दिखाया जिससे पूरा विश्व उन्हें जानने लगे। 2016 के T20 वर्ल्ड कप में 16 मैचों में तेरा विकेट झटके और 213 रन बनाएं। अब तक हार्दिक पांड्या ने भारत के लिए 11 टेस्ट मैच में 532 रन बनाएं और 17 विकेट लिए हैं। भारतीय टीम के लिए वनडे में 86 मैच में 1769 रन बनाएं और 84 विकेट झटके। वही T20 में अभी तक 93 मैच में 1348 रन और 64 विकेट लेने में सफल रहे। आईपीएल में हार्दिक पांड्या ने 137 मैच में 64 विकेट लेने में सफल रहा है।

हार्दिक पांड्या की कुल संपत्ति 

हार्दिक पांड्या की कुल संपत्ति वर्तमान में रिपोर्ट के अनुसार 91 करोड़ रुपए हैं। बड़ोदरा का यह खिलाड़ी वन डे मैच के लिए 20 लाख प्रति मैच, टेस्ट मैच के लिए 30 लाख प्रति मैच जो T20 मैच में 15 लख रुपए प्रति मैच कमाते हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top